SBI मंथली इनकम प्लान 2022, एसबीआई मासिक आय योजना ब्याज दर, एसबीआई मंथली इनकम प्लान इंटरेस्ट रेट
SBI मंथली इनकम प्लान 2022

SBI मंथली इनकम प्लान 2022: यदि आप स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की मासिक आय स्कीम में पैसा निवेश करना चाहते हैं तो आपको इस योजना के बारे में जरूरी जानकारी होना बहुत जरूरी है।
SBI एन्युटी डिपॉजिट स्कीम (वार्षिकी जमा योजना) को ही SBI मंथली इनकम स्कीम कहते हैं इस स्कीम में आप एकमुश्त (Lumpsum) रकम जमा कर सकते हैं। जिसके एक महीना पूरा होने पर आपको जमा राशि का कुछ अंश व ब्याज दोनों मिलना शुरू हो जाता हैं। इस स्कीम में अधिकतम कितनी भी रकम जमा की जा सकती हैं। जो लोग अपनी रकम को बिना किसी जोखिम के निवेश करना चाहते हैं उनके लिए यह स्कीम अच्छा विकल्प हो सकती हैं।

SBI मंथली इनकम स्कीम मुख्य बिंदु

निवेश की अवधि36, 60, 84 या 120 महीने
निवेश का प्रकारएकमुश्त रकम
न्यूनतम रकम₹36000
अधिकम रकमकोई सीमा नहीं
न्यूनतम मासिक इनकम₹1000
ब्याज दर 5.3% – 5.5% वार्षिक
रिटर्नमासिक
SBI Monthly Income Scheme

SBI मंथली इनकम प्लान इंटरेस्ट रेट

एसबीआई एन्युटी डिपोजिट स्कीम की ब्याज सामान्य फिक्स डिपॉजिट की ब्याज दर के बराबर होती हैं।
निवेश की अवधि के अनुसार ब्याज दर कम या ज्यादा हो सकती है।
एसबीआई मंथली इनकम स्कीम में 3 साल से 5 साल तक के लिए पैसे इन्वेस्ट करने पर 5.30 प्रतिशत ब्याज मिलता हैं।
वहीं 5 साल से 10 साल की अवधि के लिए पैसे जमा करने पर वार्षिक ब्याज दर 5.40 प्रतिशत होती हैं।
सिनियर सिटिजन निवेशकों के लिए ब्याज दर 0.5% अधिक होती है। एसबीआई कर्मचारी व एसबीआई पेंशनरों को 1 प्रतिशत अतिरिक्त ब्याज दिया जाता हैं।
स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की मासिक आय योजना में मिलने वाले ब्याज की हर तीन महीने में चक्रवृद्धि गणना की जाती हैं।
जबकि हर महीने घटते हुए मूलधन पर ब्याज दिया जाता हैं।

एसबीआई मंथली इनकम प्लान पात्रता

• एसबीआई मंथली इनकम प्लान में कोई भी भारतीय खाता खुलवा सकता हैं।
• NRI इस स्कीम में पैसा निवेश नहीं कर सकते हैं।
• नाबालिग के नाम पर अभिभावक इस स्कीम में पैसे निवेश कर सकते हैं।
• कोई भी व्यक्ति सिंगल या ज्वाइंट खाता खोलकर इस स्कीम मे पैसा जमा कर सकता है।
• ज्वांइट खाते में अधिकतम दो आवेदक ही खाता खुलवा सकते हैं।

कितनी रकम निवेश कर सकते हैं?

इस स्कीम में निवेश के लिए न्यूनतम रकम, हर माह होने वाली इनकम के अनुसार तय की जा सकती हैं। स्कीम में कम से कम इतनी रकम जमा करनी होगी जिससे हर महीने कम से कम 1000 रूपए किस्त के रूप में मिले।
यदि इस स्कीम में 36 महीने के लिए निवेश किया जाए तो न्यूनतम जमा राशि 36000 रूपए होगी। जबकि अधिकतम रकम की कोई सीमा नहीं हैं। इस स्कीम में एकमुश्त रकम (Lumpsum) जमा करनी होती हैं।

एसबीआई मासिक आय योजना अवधि

SBI की मंथली इनकम योजना एक फिक्स अवधि के लिए होती हैं। इसकी अवधि 36, 60, 84 या 120 महीने की होती हैं। 36 या 60 महीने के लिए पैसा निवेश करने पर कम ब्याज मिलता हैं जबकि 5 या 10 साल के लिए निवेश करने पर अधिक ब्याज मिलता हैं।

मेच्योरिटी पर कितनी रकम मिलेगी?

जैसा कि हमने पहले भी बताया हैं कि इस स्कीम में निवेश करने के बाद हर महीने जमा राशि से कुछ रकम व ब्याज मिलना शुरू हो जाता हैं। जो मेच्योरिटी अवधि तक मिलता हैं।
आपको पता होना चाहिए कि इस स्कीम में आपको मेच्योरिटी पर केवल अंतिम मासिक किस्त मिलेगी। इसके अलावा कुछ भी रकम नहीं मिलेगी क्योंकि स्कीम में जमा रकम मासिक किस्त के रूप में आपको लौटा दी जाती हैं। जिसके कारण मेच्योरिटी तक आपको संपूर्ण जमा राशि मिल जाती हैं।

मंथली इनकम प्लान में कितना रिटर्न मिलता हैं?

मंथली इनकम स्कीम में खाता खुलवाने के एक महीने बाद से ही रिटर्न मिलना शुरू हो जाता हैं।
स्कीम में जमा रकम, निवेश की अवधि व मिलने वाले ब्याज के आधार पर मासिक किस्त तय की जाती हैं। अधिक राशि जमा करने पर हर महीने अधिक रकम रिटर्न के रूप में मिलेगी।
इस स्कीम में कम से कम 1000 रूपए मासिक किस्त मिलती हैं। यदि एक निश्चित रकम लंबी अवधि के लिए निवेश की जाए तो मासिक आय कम होगी और यदि निवेश की अवधि छोटी रखी जाती हैं तो मासिक किस्त अधिक रकम की होगी मगर छोटी अवधि के लिए ब्याज दर कम होती हैं। इसलिए स्कीम में लंबी अवधि के लिए निवेश करना ज्यादा फायदेमंद हो सकता हैं। इस स्कीम में अधिकतम 6.4% वार्षिक रिटर्न मिल सकता हैं।

SBI एन्युटी डिपॉजिट स्कीम किसके लिए बहतर हैं?

कोई भी स्कीम सभी के लिए बहतर नही होती हैं। हालांकि इस स्कीम में कोई भी व्यक्ति एकमुश्त रकम जमा कर सकता हैं फिर भी कुछ तथ्य को ध्यान में रखते हुए एसबीआई मंथली इनकम स्कीम में पैसा निवेश करना किसके लिए अच्छा विकल्प हो सकता हैं-
• जिस व्यक्ति के पास एकमुश्त रकम हैं वो इस स्कीम में पैसा निवेश कर सकता हैं।
• जो लोग बिना जोखिम के पैसा निवेश करना चाहते हैं उनके लिए यह स्कीम अच्छा विकल्प हो सकता हैं।
• जो लोग अपनी रकम से हर महीने कुछ रिटर्न चाहते हैं वो भी इस स्कीम में पैसा जमा कर सकते हैं।
• रिटायरमेंट के बाद एकमुश्त रकम मिलने पर इस स्कीम में पैसा लगाना सही विकल्प हो सकता हैं।
• जिन्हें किसी अन्य सोर्स से इकट्ठा पैसा मिला है वो भी इस स्कीम में पैसे निवेश कर सकते हैं।
• यदि कोई प्रापर्टी बेंची हैं जिससे एकसाथ इकट्ठा पैसा है वो भी अपने पैसे का निवेश इस स्कीम में कर सकते हैं।
• कई बार पैसा होने के बावजूद समझ नही आता कि कहां पैसा Invest किया जाये जिससे हर महीने की इनकम हो सकें तो ऐसी स्थिति में भी इस स्कीम का लाभ उठाया जा सकता हैं।
• किसी अन्य जगह पैसा निवेश करके रिस्क से बचने के लिए ऐसी स्कीम में पैसा लगाना सही विकल्प हो सकता हैं।

इसे भी पढ़ें- पोस्ट ऑफिस बेस्ट स्कीम 2022, इंटरेस्ट रेट, स्कीम के फायदे व विशेषताएं

SBI मंथली इनकम प्लान में खाता कैसे खोलें?

भारतीय स्टेट बैंक मासिक आय योजना में पैसा निवेश करने के लिए बैंक की नजदीकी शाखा मे जाकर खाता खुलवाया जा सकता हैं। इसके लिए आपके पास एकमुश्त रकम व सभी जरूरी दस्तावेज होने चाहिए। रकम जमा करके आप हर महीने की इनकम पा सकते हैं। खाता खुलने के बाद आपको एक पासबुक दे दी जाती है। जिसमें सभी लेनदेन व ब्याज का लेखा-जोखा होता हैं। इस स्कीम में नाॅमिनी भी ऐड किया जा सकता हैं।

कितना लोन लिया जा सकता हैं?

जरुरत के समय एसबीआई एन्युटी डिपॉजिट स्कीम के तहत लोन भी लिया जा सकता हैं। लोन की अधिकतम रकम स्कीम में जमा राशि का 75 प्रतिशत तक हो सकती हैं। जबकि लोन की अवधि स्कीम की मेच्योरिटी तक हो सकती हैं।
मासिक किस्त का भुगतान लोन की रिपेमेंट के लिए किया जाता हैं। जिसके कारण जमाकर्ता को मासिक किस्त का भुगतान नहीं किया जाता हैं। लोन की रिपेमेंट होने के बाद फिर से मासिक किस्त जमाकर्ता को मिलने लगती हैं।

एसबीआई मासिक आय प्लान फायदे एवं विशेषताएं

• एसबीआई की मंथली इनकम स्कीम में किसी तरह के जोखिम की संभावना नहीं होती हैं।
• इस स्कीम में अवधि का चुनाव करने के लिए कई विकल्प हैं।
• SBI मंथली इनकम प्लान में 3 वर्ष, 5 वर्ष, 7 वर्ष व 10 वर्ष की अवधि के लिए पैसे जमा किए जा सकते हैं।
• कोई भी व्यक्ति इस योजना में पैसे निवेश कर सकता है।
• इस स्कीम में खाता खुलवाने पर भारतीय स्टेट बैंक बैंक की पासबुक मिल जाती हैं।
• यह स्कीम State Bank Of India के सभी शाखाओं में उपलब्ध हैं। आप किसी भी शाखां में इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।
• योजना में खोलें गये खाते को एसबीआई की किसी भी शाखा मे ट्रांसफर किया जा सकता हैं।
• इस प्लान में कम से कम 25000 रूपये निवेश किये जा सकते हैं। जबकि अधिकतम रकम की कोई सीमा नहीं हैं।
• सिनियर सिटिजन के लिए ब्याज दर 0.5 अधिक होती हैं।
• एसबीआई कर्मचारी व एसबीआई पेंशनरों को 1 प्रतिशत ज्यादा ब्याज मिलता हैं।
• पैसे की आवश्यकता पड़ने पर एसबीआई वार्षिकी जमा योजना के तहत लोन भी लिया जा सकता हैं।
• SBI मासिक आय योजना में जमा राशि का 75 प्रतिशत तक लोन लिया जा सकता हैं।

इसे भी पढ़ें- कौन सी क्रिप्टोकरेंसी खरीदनी चाहिए? सबसे ज्यादा रिटर्न कौनसी क्रिप्टोकरेंसी ने दिया है?

SBI मंथली इनकम प्लान नियम व शर्तें

• स्कीम में खाता खोलने के लिए एकमुश्त रकम होनी चाहिए।
• स्कीम अकेले या संयुक्त रूप से भी खाता खुलवाया जा सकता हैं।
• खाता खोलते समय नाॅमिनी जोड़ा जा सकता हैं।
• स्कीम में कम से कम 36000 रूपए जमा होने चाहिए।
• मासिक इनकम के रूप में न्यूनतम 1000 रूपए मिलेंगे।
• मासिक इनकम किस्त में जमा मूलधन व ब्याज सामिल होगा।
• मेच्योरिटी पर खाते में शून्य रूपए होंगे मतलब मेच्योरिटी पर बिल्कुल भी राशि नहीं मिलेगी।
• मेच्योरिटी से पहले स्कीम बंद करने पर जमा राशि में से 2 प्रतिशत कटौती की जाएगी।
• 15 लाख रुपए या अधिक की जमा राशि को समय पूर्व भुगतान किया जा सकता हैं।
• खाताधारक की मृत्यु होने पर खाता समय से पहले बंद किया जा सकता हैं।
• किसी विशेष आवश्यकता पड़ने पर जमा रकम का अधिकतम 75 प्रतिशत तक लोन / ओवरड्राफ्ट लिया जा सकता हैं।
• लोन का भुगतान ना होने तक मासिक किस्त लोन की रिपेमेंट मेें इस्तेमाल की जाती हैं।

समय पूर्व भुगतान के नियम व शर्तें

एसबीआई की मासिक आय योजना।‌। में समय से पहले (मेच्योरिटी से पहले) बंद करने के लिए कुछ नियम व शर्तें हैं जिनका पालन करके ही योजना को समय पूर्व बंद करके जमा रकम का भुगतान किया जा सकता हैं।
• केवल विशेष स्थिति में ही मेच्योरिटी से पहले भुगतान की अनुमति होती हैं।
• 15 लाख या इससे अधिक की जमा राशि होने पर समय पूर्व भुगतान की अनुमति हैं।
• खाताधारक की मृत्यु होने पर समय पूर्व भुगतान किया जा सकता हैं। एसी स्थिति में जमा रकम का भुगतान नाॅमिनी को किया जाता हैं।
• यदि समय पूर्व भुगतान किया जाता हैं तों इसके लिए जमा रकम से कटौती की जाएगी।
• मेच्योरिटी से पहले भुगतान के लिए जमा रकम से दो प्रतिशत की कटौती की जाएगी।

ध्यान रखने योग्य बातें

एसबीआई मंथली इनकम प्लान में निवेश करने से पहले कुछ ध्यान रखने योग्य बातें हैं जैसे-
• योजना में निवेश करने से पहले यह सुनिश्चित कर लें कि आप कितनी रकम को लंबे समय तक निवेश कर सकते हैं।
• एसबीआई वार्षिकी जमा योजना मे नाॅमिनी जोड़ने की सुविधा भी होती हैं इसलिए खाते में नाॅमिनी को ऐड ज़रूर करें।
• मेच्योरिटी से पहले यदि खाताधारक की मृत्यु हो जाती हैं तो नाॅमिनी को सारा पैसा मिल जाता हैं। बिना नाॅमिनी के पैसा मिलना थोडा मुश्किल हो जाता हैं।
• महीने की हर किस्त मे मूलधन व ब्याज दोनों का भुगतान किया जाता हैं जिसके कारण आपको मेच्योरिटी पर कोई रकम नहीं मिलती हैं।
• लंबी अवधि चुनने पर आपको अधिक रकम जमा करनी पड़ सकती हैं क्योंकि स्कीम का नियम हैं कि आपको इतना पैसा जमा करना पड़ेगा जिससे आपको कम से कम एक हजार रूपए हर महीने मिलते रहे।
• समय पूर्व भुगतान के लिए 15 लाख से अधिक जमा राशि होना जरूरी होता है। मगर ऐसा करने पर भी शुल्क लगाया जा सकता है। इसलिए आप समय से पहले भुगतान करने से बचें।

SBI मंथली इनकम प्लान FAQs

SBI मंथली इनकम प्लान के लिए न्यूनतम व अधिकतम रकम कितनी है?

SBI मंथली इनकम प्लान में निवेश के लिए न्यूनतम रकम, न्यूनतम मासिक किस्त के आधार पर तय की जाती है। न्यूनतम मासिक किस्त 1000 रूपए के अनुसार न्यूनतम जमा रकम 36000 रूपए होनी चाहिए। इस योजना में जमा करने के लिए अधिकतम रकम की कोई सीमा नहीं हैं।

SBI मासिक आय योजना में कितना ब्याज मिलता हैं?

एसबीआई मंथली इनकम प्लान में ब्याज दर स्कीम की अवधि के अनुसार तय होती हैं। 5 साल तक की अवधि के लिए वार्षिक ब्याज दर 5.3% जबकि 7 या 10 साल की अवधि के लिए 5.4% हैं वहीं सिनियर सिटिजन खाताधारकों के लिए 0.5 प्रतिशत व एसबीआई कर्मचारी के लिए 1 प्रतिशत अधिक ब्याज दिया जाता हैं।

एसबीआई मंथली इनकम प्लान की परिपक्वता अवधि (मेच्योरिटी अवधि) कितनी है?

इस योजना में निवेश करने के लिए 36, 60, 84 यि 120 महीने की अवधि का चुनाव किया जा सकता हैं।

खाते में नाॅमिनी जोड़ने की सुविधा उपलब्ध हैं या नहीं।

हां, एसबीआई मासिक आय योजना में नामित व्यक्ति भी जोड़ा जा सकता हैं।

मेच्योरिटी से पहले भुगतान पर कितना शुल्क लगता है?

मेच्योरिटी से पहले भुगतान करने पर जमा रकम का 2 प्रतिशत शुल्क लगाया जाता हैं।

अस्वीकरण / Disclaimers

Paisawale.in कभी भी किसी व्यक्ति को किसी स्कीम, स्टाॅक, म्युचुअल फंड आदि में निवेश के लिए प्रेरित नहीं करता हैं। निवेशकों अपने विवेक का इस्तेमाल कर किसी स्कीम, स्टाॅक या म्युचुअल फंड में निवेश करें।
इस पेज में बताई गई जानकारी पूर्ण रूप से बैंक के विवेक के आधार पर परिवर्तन के अधीन है। किसी भी स्कीम में निवेश करने से पहले बैंक से संपूर्ण जानकारी जरूर लें।

इसे भी पढ़ें- स्टॉक मार्केट में निवेश करने से पहले हर किसी को क्या सावधानी रखनी चाहिए?

पोस्ट ऑफिस डबल मनी स्कीम क्या हैं इस स्कीम में कितने दिनों में पैसा डबल होता हैं

Leave a Reply