पोस्ट ऑफिस बेस्ट स्कीम: भारतीय डाकघर सेविंग स्कीम (बचत योजना) के तहत पैसा निवेश करने का अच्छा विकल्प है। पोस्ट ऑफिस में पैसा अधिक सुरक्षित माना जाता है क्योंकि पोस्ट ऑफिस की स्कीम केन्द्र सरकार के अधीन होती है। पोस्ट ऑफिस की बहुत सी सेविंग स्कीम हैं जो बिना रिस्क के पैसा निवेश करने का अच्छा विकल्प है। इनमें बिना जोखिम के गारंटीड रिटर्न (फायदा) मिलता है।

पोस्ट ऑफिस की बेस्ट स्कीम 2022 प्लान ब्याज दर, Post Office Best Savings Scheme in 2022
पोस्ट ऑफिस बेस्ट स्कीम

पैसा निवेश करने के लिए बहुत से विकल्प हो सकते हैं जैसे: सेविंग स्कीम, एफडी स्कीम, गोल्ड, रियल एस्टेट, म्युचुअल फंड, स्टाॅक मार्किट। मगर बिना नाॅलेज के निवेश करना नुकसानदायक भी हो सकता हैं। यदि आपके पास समय की कोई कमी नहीं है तो आप रियल एस्टेट, म्युचुअल फंड, स्टाॅक मार्किट में पैसा लगाकर अच्छा मुनाफा पा सकते हैं मगर इनमें पैसा डूबने का रिस्क भी बहुत ज्यादा होता है।
इसलिए हम आपको ऐसी स्कीम के बारे में बताएंगे जिनमें इन्वेस्ट करने पर बिल्कुल भी रिस्क नहीं रहता है। और आपको गारंटीड रिटर्न मिलता है। जी हां आप पोस्ट ऑफिस की सेविंग स्कीम में अपना पैसा बिना किसी जोखिम के इन्वेस्ट कर सकते हैं। आप अपने अनुसार कोई भी स्कीम चुन सकते हैं।

पोस्ट ऑफिस सेविंग स्कीम इंटरेस्ट रेट 2022

स्कीमवार्षिक ब्याज दरन्यूनतम जमा राशि
पोस्ट ऑफिस डबल मनी स्कीम6.9%₹1000
पोस्ट ऑफिस रिकरिंग डिपॉजिट स्कीम5.8%₹100/माह
पोस्ट ऑफिस टाइम डिपॉजिट स्कीम5.5%-5.8%
₹1000
पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम6.6%₹1000
पोस्ट ऑफिस सुकन्या समृद्धि स्कीम7.6%₹250
पोस्ट ऑफिस सिनियर सिटिजन सेविंग स्कीम7.4%₹1000
पोस्ट ऑफिस पब्लिक प्रोविडेंट फंड स्कीम7.1%₹500
पोस्ट ऑफिस नेशनल सेविंग सर्टीफिकेट6.8%₹1000
पोस्ट ऑफिस सेविंग अकाउंट4.0%₹500
Post Office Savings Scheme Interest Rate

पोस्ट ऑफिस डबल मनी स्कीम

पोस्ट ऑफिस की सबसे लोकप्रिय स्कीम में से एक पोस्ट ऑफिस डबल मनी स्कीम भी हैं। किसान विकास पत्र स्कीम को ही पोस्ट ऑफिस डबल मनी स्कीम या डबल मनी प्लान के नाम से जाना जाता है। इस स्कीम में निवेश की गई रकम निश्चित समय में डबल हो जाती है। इसमें निवेश करने के लिए कम से कम 1000 रूपए या 100 के गुणक में रकम होनी चाहिए।
वहीं यदि आप पोस्ट ऑफिस डबल मनी स्कीम में 50000 रूपए जमा करते हैं तो आपको 10 साल 4 महीने (124 महीने) बाद 100000 रूपए मिलेंगे।
स्कीम की अवधि के दौरान पैसे की जरूरत पड़ने पर किसान विकास सर्टिफिकेट (डबल मनी स्कीम) को सिक्योरिटी के तौर पर रखकर लोन भी लिया जा सकता है।

निवेश के लिए न्यूनतम रकम₹1000
निवेश के लिए अधिकतम रकमकोई सीमा नहीं
ब्याज दर6.9% वार्षिक
पैसा डबल होने की अवधि (मेच्योरिटी अवधि)10 साल 4 महीने
खाताधारकों की संख्याएक, दो या अधिकतम तीन व्यक्ति
मेच्योरिटी से पहले बंद कराने की शर्तेंखाताधारक की मृत्यु होने पर,
सह-खाताधारक की मृत्यु होने पर,
कोर्ट के आदेश पर,
खाता खुलने के 2 साल 6 महीने बाद
पोस्ट ऑफिस डबल मनी प्लान

डबल मनी प्लान विशेषताएं

• इस स्कीम में पैसा डबल होने में 10 साल 4 महीने का समय लगता है।
• 6.8 प्रतिशत वार्षिक ब्याज लगता है।
• स्कीम के तहत कोई भी व्यक्ति अपना खाता खुलवा सकता हैं।
• संयुक्त खाते (Joint Account) के रुप में तीन लोग (A+B) खाता खुलवा सकते हैं।
• 10 साल से अधिक उम्र के बच्चों के नाम पर अभिभावक भी खाता खुलवा सकते हैं।
• मानसिक रूप से अस्वस्थ व्यक्ति के नाम पर अभिभावक खाता खुलवा सकते हैं।
• कम से कम 1000 रूपए निवेश किये जा औसकते हैं।
• निवेश की अधिकतम सीमा कोई नहीं हैं जितना भी चाहे उतना पैसा इस स्कीम में इन्वेस्ट कर सकते हैं।
• पैसा निवेश करने में जोखिम नहीं होता है।
• गारंटीड रिटर्न (फायदा) मिलता हैं।
• एक ही व्यक्ति अपने नाम पर कितने भी अकाउंट खुलवा सकते हैं।
• जरूरत पड़ने पर प्लान के विरुद्ध लोन भी लिया जा सकता है।
• 30 महीने बाद ही प्लान बंद किया जा सकता हैं।
• खाताधारक या सह-खाताधारक की मृत्यु होने पर भी स्कीम मेच्योरिटी से पहले बंद की जा सकती हैं।

पोस्ट ऑफिस रिकरिंग डिपॉजिट स्कीम

पोस्ट ऑफिस की रिकरिंग डिपॉजिट स्कीम उन लोगों के लिए बहतर विकल्प है जो हर महीने छोटी रकम को निवेश करके बड़ी रकम पाना चाहते हैं।
डाकघर रिकरिंग डिपॉजिट स्कीम मे हर महीने पैसा जमा कर सकते हैं और मेच्योरिटी के समय एकमुश्त रकम पा सकते हैं। यह स्कीम पांच साल की अवधि के लिए होती हैं।
इस स्कीम में आप कम से कम 100 रूपए जमा कर सकते हैं। वही अधिकतम जमा रकम की कोई सीमा नहीं हैं।

निवेश के लिए न्यूनतम रकम₹100/माह
निवेश के लिए अधिकतम रकमकोई सीमा नहीं
ब्याज दर5.8% वार्षिक
मेच्योरिटी अवधि5 साल
खाताधारकों की संख्याएक, दो या अधिकतम तीन व्यक्ति
मेच्योरिटी से पहले बंद कराने की शर्तेंखाता खुलने के 3 साल बाद
पोस्ट ऑफिस डबल मनी प्लान

पोस्ट ऑफिस रिकरिंग डिपॉजिट स्कीम विशेषताएं

• इस स्कीम में हर महीने एक छोटी रकम को निवेश किया जा सकता है।
• इसमें 5.8 प्रतिशत वार्षिक ब्याज मिलता है।
• यदि आप रिकरिंग डिपॉजिट स्कीम में 5000 प्रतिमाह जमा करते हैं तो आपको मेच्योरिटी के समय 348483 रूपए मिलेंगे।
• कम से कम 100 रूपए प्रतिमाह निवेश किये जा सकते हैं।
• एक ही व्यक्ति अपने नाम पर कितने भी अकाउंट खुलवा सकते हैं।
• कैश या चेक दोनों तरह से पेमेंट करके खाता खुलवाया जा सकता है।
• यदि खाता खुलने की तिथि 15 तारीख से पहले हैं तो मासिक किस्त महीने की 15 तारीख तक जमा की जा सकती हैं। और यदि खाता खुलने की तिथि 15 तारीख के बाद हैं तो मासिक किस्त महीने की आखिरी तारीख तक जमा की जा सकती हैं।
• खाताधारक चाहें तो स्कीम में एक साथ पांच साल के लिए एडवांस रकम जमा कर सकता हैं यदि एडवांस रकम जमा की जाती है तो खाते को बीच में बंद नहीं किया जा सकता है।
• मेच्योरिटी के बाद बिना अतिरिक्त जमा रकम के स्कीम को अगले पांच साल के लिए बढ़ाया जा सकता है।
• जरूरत पड़ने पर स्कीम के विरुद्ध लोन भी लिया जा सकता है इसके लिए कम से कम 12 किस्त जमा होनी चाहिए।
• जमा राशि का अधिकतम 50 प्रतिशत तक लोन लिया जा सकता हैं।
• केवल तीन साल पुराने खाते को ही मेच्योरिटी से पहले बंद किया जा सकता हैं।
• मेच्योरिटी से पहले खाता बंद करने पर पोस्ट ऑफिस सेविंग अकाउंट के तहत ब्याज मिलेगा।

पोस्ट ऑफिस टाइम डिपॉजिट स्कीम

टाइम डिपॉजिट स्कीम में खाता खुलवाने के लिए न्यूनतम 1000 रूपए निवेश करने होंगे। वही अधिकतम निवेश करने की कोई सीमा नहीं हैं। इस स्कीम में एक साल, दो साल, तीन साल या पांच साल के लिए खाता खोला जा सकता है। इस स्कीम में एक साल, दो साल, या तीन साल के लिए पैसा जमा करने पर 5.5 प्रतिशत वार्षिक ब्याज मिलता है। वही पांच साल के लिए पैसा जमा करने पर 6.7 प्रतिशत वार्षिक ब्याज मिलता है। साथ ही पांच साल की टाइम डिपॉजिट स्कीम में पैसा निवेश करने पर आयकर अधिनियम 80 सी के तहत छूट भी मिलती है।

निवेश के लिए न्यूनतम रकम₹1000
निवेश के लिए अधिकतम रकमकोई सीमा नहीं
वार्षिक ब्याज दरएक वर्ष: 5.5%
दो वर्ष: 5.5%
तीन वर्ष: 5.5%
पांच वर्ष: 6.7%
मेच्योरिटी अवधिएक वर्ष,
दो वर्ष,
तीन वर्ष,
पांच वर्ष
खाताधारकों की संख्याएक, दो या अधिकतम तीन व्यक्ति
मेच्योरिटी से पहले बंद कराने की शर्तेंखाता खुलने के 6 महीने बाद
पोस्ट ऑफिस टाइम डिपॉजिट स्कीम

पोस्ट ऑफिस टाइम डिपॉजिट स्कीम की विशेषताएं

• इस स्कीम में एक साथ पैसा जमा किया जाता है।
• पैसा निवेश करने के लिए एक वर्ष, दो वर्ष, तीन वर्ष या पांच वर्ष की अवधि होती हैं।
• इसमें 5.5 प्रतिशत से 6.7 प्रतिशत तक वार्षिक ब्याज मिलता है।
• यदि आप इस स्कीम में 500000 रूपए पांच साल के लिए निवेश करते हैं तो आपको हर साल 34351 रुपए ब्याज के रूप में मिलेंगे वही मेच्योरिटी के समय जमा राशि भी मिलेगी।
• कोई भी व्यक्ति इसमें अपना खाता खुलवा सकता है। वही बच्चों के लिए अभिभावक अपनी देखरेख में खाता खुलवा सकते है या 10 वर्ष से ज्यादा उम्र के बच्चे अपने नाम पर खाता खुलवा सकते हैं।
• संयुक्त खाता भी खुलवाया जा सकता है जिसमें अधिकतम तीन व्यक्ति सामिल हो सकते हैं।
• जमा राशि पर बनने वाला ब्याज हर साल खाता धारक के सेविंग अकाउंट में डाल दिया जाता हैं।
• यदि पांच साल के लिए टाइम डिपॉजिट स्कीम में पैसा जमा किया जाता है तो बनने वाले ब्याज पर आयकर अधिनियम 80 सी के तहत टैक्स में छूट मिलती है।
• एक साल की स्कीम को कम से कम छ महीने बाद ही बंद कर सकते हैं। इसपर सेविंग अकाउंट के बराबर ब्याज मिलेगा।
• वही दो साल, तीन साल या पांच साल की स्कीम को एक साल बाद ही बंद किया जा सकता है ऐसा करने पर निर्धारित ब्याज दर से 2 प्रतिशत कम ब्याज मिलेगा।
• एक बार स्कीम मेच्योर होने के बाद आगे भी बढाई जा सकती हैं। एक वर्ष की स्कीम छ महीने, दो वर्ष की स्कीम 12 महीने और तीन व पांच साल की स्कीम 18 महीनों के लिए बढ़ाई जा सकती हैं।

इसे भी पढ़ें- एसबीआई मासिक आय योजना क्या है, इसके ब्याज, लाभ, लोन, मेच्योरिटी

पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम

पोस्ट ऑफिस की मंथली इनकम स्कीम बहुत ज्यादा लोकप्रिय स्कीम में से एक हैं यह स्कीम उन लोगों के लिए बहतर हैं जिनके पास एकमुश्त रकम हैं और वह अपनी रकम को निवेश करके हर महीने कुछ रिटर्न चाहते हैं।
मंथली इनकम प्लान में न्यूनतम 1000 रूपए या 1000 के गुणक में पैसे जमा किए जा सकते हैं। वही एक खाते में अधिकतम 4.5 लाख रुपए व संयुक्त खाता (Joint Account) में अधिकतम 9 लाख रूपए जमा किए जा सकते हैं। इसमें 6.6 प्रतिशत वार्षिक दर से ब्याज मिलता है।

निवेश के लिए न्यूनतम रकम₹1000
निवेश के लिए अधिकतम रकमएक खाता में 4.5 लाख,
ज्वाइंट खाते में 9.0 लाख
ब्याज दर6.6% वार्षिक
मेच्योरिटी अवधि5 साल
खाताधारकों की संख्याएक, दो या अधिकतम तीन व्यक्ति
मेच्योरिटी से पहले बंद कराने की शर्तें1-3 साल के बीच बंद करने पर जमा रकम में 2% कटौती
3-5 साल के बीच बंद करने पर जमा रकम में 1% कटौती
पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम प्लान

पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम विशेषताएं

• पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम प्लान में न्यूनतम 1000 से निवेश किया जा सकता हैं।
• अधिकतम जमा राशि 4.5 लाख या ज्वाइंट खाते में 9 लाख रूपए जमा किये जा सकते हैं।
• इसमें जमा राशि पर 6.6 वार्षिक ब्याज मिलता है।
• खाता खुलने के एक महीने बाद से हर महीने ब्याज की रकम खाताधारक के सेविंग अकाउंट मे आएगी।
• यदि पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम प्लान में 500000 रूपए जमा किए जाते हैं तो पांच साल तक हर महीने 2475 रूपए मिलेंगे। जिससे पांच साल के दौरान 148500 ब्याज की रकम मिलेगी।
• इस स्कीम की मेच्योरिटी पर केवल जमा रकम ही मिलती है क्योंकि ब्याज हर महीने खाताधारक को दे दिया जाता हैं।
• मेच्योरिटी से पहले स्कीम बंद करने के लिए खाता खुले हुए एक साल होनी चाहिए। वही एक साल से तीन साल के बीच खाता बंद करने पर जमा रकम में से 2 प्रतिशत की कटौती की जाएगी जबकि 3 साल से 5 साल के बीच खाता बंद करने पर जमा रकम से 1 प्रतिशत कटौती की जाएगी व बची हुई खाता धारक को दी जाएगी।
• इसमें बनने वाला ब्याज पर इनकम टैक्स देना पड सकता हैं। क्योंकि इस स्कीम में पैसा निवेश करने पर आयकर मे छूट नहीं मिलती हैं।

पोस्ट ऑफिस सुकन्या समृद्धि स्कीम

सुकन्या समृद्धि स्कीम में केवल बेटी के नाम पर ही खाता खोला जा सकता है। यह स्कीम उनके लिए अच्छी हो सकती है जो अपनी बेटी की सादी या अन्य खर्च के लिए इकट्ठी रकम चाहते हैं। इस स्कीम में केवल 10 साल से कम उम्र की बेटी के नाम पर अभिभावक खाता खोल सकते है। स्कीम में कम से कम 250 रूपए व अधिकतम 150000 रूपए एक साल में जमा किये जा सकते हैं। इसकी मेच्योरिटी अवधि 21 वर्ष होती है मगर बेटी की उम्र 18 वर्ष होने पर भी इसमें जमा रकम निकाली जा सकती हैं। इसमें मिलने वाले ब्याज की दर 7.6 प्रतिशत वार्षिक होती है। वही सालाना चक्रवृद्धि ब्याज भी मिलता है। इसलिए इस स्कीम में ज्यादा फायदा मिल सकता है।

निवेश के लिए न्यूनतम रकम₹250 प्रतिवर्ष
निवेश के लिए अधिकतम रकम1.5 लाख प्रतिवर्ष
ब्याज दर7.6% वार्षिक
मेच्योरिटी अवधि21 साल, या बेटी की शादी पर
खाताधारकों की संख्याएक बेटी के नाम, या परिवार में सिर्फ दो खाते
मेच्योरिटी से पहले बंद कराने की शर्तेंबेटी की उम्र 18 साल होने पर या 10वी पास करने के बाद,
खाताधारक की मृत्यु होने पर
पोस्ट ऑफिस सुकन्या समृद्धि स्कीम

पोस्ट ऑफिस सुकन्या समृद्धि स्कीम विशेषताएं

• पोस्ट ऑफिस सुकन्या समृद्धि योजना में 10 साल से कम उम्र की बेटी के नाम खाता खुलवाया जा सकता है।
• एक नाम पर केवल एक ही खाता खोला जा सकता है। या परिवार में सिर्फ दो खाते खोले जा सकते हैं।
• इस स्कीम में न्यूनतम 250 रूपए एक वित्तीय वर्ष में जमा होने चाहिए अन्यथा डिफ़ाल्ट खाता माना जाएगा।
• इस स्कीम में एक वित्तीय वर्ष में अधिकतम 150000 रूपए जमा किए जा सकते हैं।
• स्कीम मे अधिकतम पन्द्रह साल तक पैसा जमा किए जा सकते हैं।
• खाता खुलने की तिथि से 21 साल बाद या बेटी की शादी पर (शादी के एक महीने पहले और तीन महीने बाद) खाता मेच्योर होगा।
• आयकर अधिनियम 80 सी के तहत टैक्स में छूट भी मिलती है।
• इसमें 7.6 प्रतिशत वार्षिक ब्याज मिलता है।
• ब्याज की गणना हर माह, 5 तारीख से महीने के अंत तक की न्यूनतम जमा राशि पर की जाती है।
• वित्तीय वर्ष के अंत में ब्याज खाते में जोड दिया जाता हैं।
• बेटी की उम्र 18 साल होने या बेटी 10वी पास होने पर खाते से केवल 50 प्रतिशत रकम निकाली जा सकती हैं।
• खाताधारक की मृत्यु होने पर या अभिभावक (जिसने खाता खुलवाया था) की मृत्यु होने पर कम से कम 5 साल पुराना अकाउंट ही बंद किया जा सकता है।
• खाताधारक की मृत्यु से खाता बंद करने की तिथि तक पोस्ट ऑफिस सेविंग अकाउंट के बराबर ब्याज दिया जाएगा।

पोस्ट ऑफिस सिनियर सिटिजन सेविंग स्कीम

सिनियर सिटिजन स्कीम में पैसा निवेश करने पर भी अच्छा रिटर्न मिल सकता हैं। इस स्कीम में निवेश करना उनके लिए अच्छा हो सकता है जिन्हें रिटायरमेंट के समय एकमुश्त रकम प्राप्त हुई है। इसमें पांच साल के लिए पैसा जमा किया जा सकता है। वही इस स्कीम में 7.4 प्रतिशत वार्षिक ब्याज मिलता है साथ ही टैक्स बेनिफिट भी मिलते हैं। इस स्कीम में न्यूनतम 1000 रूपए या अधिकतम 15 लाख रुपए निवेश किए जा सकते हैं।

खाताधारक की उम्र50 से 60 वर्ष
निवेश के लिए न्यूनतम रकम₹1000
निवेश के लिए अधिकतम रकम15 लाख
ब्याज दर7.4% वार्षिक
मेच्योरिटी अवधि5 साल
खाताधारकों की संख्याएक, या (पति व पत्नी)
मेच्योरिटी से पहले बंद कराने की शर्तेंएक साल से पहले बंद करने पर कोई इंटरेस्ट नहीं मिलेगा,
एक साल के बाद जमा राशि में से 1.5% कटौती,
2 साल के नंबाद जमा राशि में से 1% की कटौती
पोस्ट ऑफिस सिनियर सिटिजन प्लान

सिनियर सिटिजन सेविंग स्कीम विशेषताएं

• पोस्ट ऑफिस की सिनियर सिटिजन स्कीम मे 7.4 प्रतिशत वार्षिक ब्याज मिलता है।
• इसमें निवेश करने के लिए न्यूनतम रकम 1000 व अधिकतम रकम 15 लाख हो सकती हैं।
• कोई भी रिटायर्ड भारतीय नागरिक जिसकी उम्र 55 से 60 साल के बीच हैं वो इसमें अपना खाता खुलवा सकता हैं।
• डिफेंस से रिटायर्ड नागरिक जिसकी उम्र 50 से 60 साल के बीच हैं वो भी अपना खाता खुलवा सकता हैं।
• सिनियर सिटिजन स्कीम मे पांच साल के लिए पैसा जमा किया जा सकता है वही मेच्योरिटी के बाद भी खाते को तीन साल और बढ़ाया जा सकता है।
• केवल एक खाताधारक या पति-पत्नी (ज्वाइंट खाता) का खाता खुलवाया जा सकता है।
• यदि खाते में अतिरिक्त रकम जमा की जाती है तो अतिरिक्त रकम पर पोस्ट ऑफिस सेविंग अकाउंट की ब्याज दर से ब्याज मिलेगा।
• एक वित्तीय वर्ष में ब्याज की रकम 50000 से कम होने पर इनकम टैक्स में छूट मिलती है।
• यदि एक वित्तीय वर्ष में 50000 से अधिक रकम का ब्याज बनता हैं तो इसपर इनकम टैक्स देना पड़ सकता है।
• मेच्योरिटी से पहले कभी भी अकाउंट बंद किया जा सकता हैं यदि खाता खुलने की तिथि से एक साल से पहले खाता बंद किया जाता है तो इस पर ब्याज नहीं मिलेगा।
• एक साल के बाद खाता बंद करने पर ब्याज मिलेगा मगर जमा रकम में से 1.5 प्रतिशत कटौती की जाएगी।
• दो साल के बाद खाता बंद करने पर भी ब्याज मिलेगा मगर जमा रकम में से 1 प्रतिशत की कटौती की जाएगी।

पोस्ट ऑफिस पब्लिक प्रोविडेंट फंड स्कीम

पब्लिक प्रोविडेंट फंड स्कीम लंबी अवधि की स्कीम हैं। इसमें पंद्रह वर्ष के लिए पैसे जमा किए जा सकते हैं। यह एक सुरक्षित स्कीम होने के साथ-साथ अच्छा रिटर्न भी देती है। इस स्कीम मे न्यूनतम 500 व अधिकतम 1.5 लाख रूपए एक वित्तीय वर्ष में जमा किए जा सकते हैं। एक वित्तीय वर्ष में कम से कम 500 रूपए जमा होने चाहिए अन्यथा खाता बंद हो जाता है। पब्लिक प्रोविडेंट फंड में 7.1 प्रतिशत वार्षिक ब्याज मिलता है। साथ ही जरूरत पड़ने पर लोन भी लिया जा सकता है।

निवेश के लिए न्यूनतम रकम₹500
निवेश के लिए अधिकतम रकम₹150000
ब्याज दर7.1% वार्षिक
मेच्योरिटी अवधि15 वित्तीय वर्ष
खाताधारकों की संख्याएक
मेच्योरिटी से पहले बंद कराने की शर्तेंखाता खुलने के 5 साल बाद,
खाताधारक की मृत्यु होने, गंभीर बिमारी होने पर,
पोस्ट ऑफिस पब्लिक प्रोविडेंट फंड स्कीम

पोस्ट ऑफिस पब्लिक प्रोविडेंट फंड स्कीम विशेषताएं

• पब्लिक प्रोविडेंट फंड प्लान में न्यूनतम रकम 500 व अधिकतम रकम 150000 रूपए निवेश किये जा सकते हैं।
• निवेश की गई रकम पर 7.1 प्रतिशत वार्षिक ब्याज मिलता है।
• यदि इस स्कीम में हर साल 50000 रूपए जमा किए जाएं तो मेच्योरिटी पर 1356070 रूपए मिलेंगे।
• इस स्कीम में मिलने वाला ब्याज इनकम टैक्स के दायरे में नहीं आता है।
• जरूरत पड़ने पर प्लान के विरुद्ध लोन भी लिया जा सकता है लोन की अधिकतम रकम, जमा राशि की 25 प्रतिशत हो सकती है।
• लोन की रिपेमेंट 36 महीने से पहले करने पर ब्याज दर 1 प्रतिशत रहती है।
• स्कीम मेच्योर होने पर अगले पांच साल के लिए स्कीम बढ़ाई जा सकती हैं।
• दोबारा बढ़ाई गई स्कीम में पैसा जमा करने की आवश्यकता नहीं होती है।
• 15 साल पूरे होने पर पूरा पैसा निकाला जा सकता है। या साल में सिर्फ एक बार पैसा निकाल सकते हैं।
• खाताधारक कि मृत्यु होने पर या खाताधारक पर निर्भर रहने वाले व्यक्ति को गंभीर बिमारी होने, उच्च शिक्षा के लिए स्कीम को बंद किया जा सकता है। मगर ऐसा करने के लिए खाता खोलने की तिथि से पांच होने चाहिए।
• मेच्योरिटी से पहले खाता बंद करने पर 1 प्रतिशत कम ब्याज मिलता है।

पोस्ट ऑफिस नेशनल सेविंग सर्टीफिकेट

पोस्ट ऑफिस नेशनल सेविंग सर्टीफिकेट प्लान में पांच वर्ष के लिए खाता खोला जा सकता हैं। इसमें जमा करने की न्यूनतम राशि 1000 हैं। जबकि अधिकतम रकम जमा करने की कोई सीमा नहीं हैं। कोई भी व्यक्ति इस स्कीम में कितने भी खाते खुलवा सकता हैं। इसमें मिलने वाला ब्याज 6.8 प्रतिशत हैं साथ ही वार्षिक चक्रवृद्धि गणना की जाती है इसलिए इस स्कीम में अच्छा रिटर्न मिल सकता हैं।

निवेश के लिए न्यूनतम रकम₹1000
निवेश के लिए अधिकतम रकमकोई सीमा नहीं
ब्याज दर6.8% वार्षिक
मेच्योरिटी अवधि5 साल
खाताधारकों की संख्याएक, दो या अधिकतम तीन व्यक्ति
मेच्योरिटी से पहले बंद कराने की शर्तेंखाताधारक की मृत्यु होने पर,
सह-खाताधारक की मृत्यु होने पर,
कोर्ट के आदेश पर,
पोस्ट ऑफिस नेशनल सेविंग सर्टीफिकेट प्लान

पोस्ट ऑफिस नेशनल सेविंग सर्टीफिकेट विशेषताएं

• इस स्कीम में 1000 रूपए जमा करके भी खाता खुलवाया जा सकता है।
• अधिकतम रकम जमा करने की कोई सीमा नहीं हैं।
• वार्षिक ब्याज दर 6.8 प्रतिशत हैं जिसकी वार्षिक चक्रवृद्धि गणना की जाती है।
• इस स्कीम में कोई भी व्यक्ति कितने भी अकाउंट खोल सकता है।
• अकेले या ज्वाइंट खाता भी खोला जा सकता है।
• नाबालिग या मानसिक रूप से अस्वस्थ व्यक्ति के नाम पर अभिभावक की देखरेख में खाता खोला जा सकता हैं
• यदि इस स्कीम में 500000 रूपए जमा किए जाते हैं तो पांच वर्ष के बाद 694746 रूपए मिलेंगे जिसमें 194746 रूपए ब्याज होगा।
• इस स्कीम को पांच वर्ष से पहले बंद नहीं किया जा सकता है कुछ स्थिति में ही मेच्योरिटी से पहले खाता बंद किया जा सकता हैं
• खाता धारक की मृत्यु होने पर, या सह-खाताधारक की मृत्यु होने पर खाता बंद किया जा सकता हैं।

पोस्ट ऑफिस सेविंग अकाउंट

किसी भी बैंक के सेविंग अकाउंट की तरह ही पोस्ट ऑफिस सेविंग अकाउंट होता है। पोस्ट ऑफिस सेविंग अकाउंट खोलने के लिए न्यूनतम 500 रूपए जमा करने होंगे। साथ ही एक व्यक्ति केवल एक खाता ही खुलवा सकता है। हालांकि ज्वाइंट खाते में वह अन्य खाता भी खुलवा सकता हैं। इस खाते में जमा राशि पर 4 प्रतिशत वार्षिक ब्याज मिलता है। यदि खाते में लगातार तीन वित्तीय वर्ष में कोई लेन-देन नहीं की जाती हैं तो अकाउंट अस्थाई रूप से बंद हो जाता हैं। हालांकि पोस्ट ऑफिस में केवाईसी दस्तावेज के साथ दोबारा से खाता सुचारू रूप से चालू किया जा सकता हैं।

न्यूनतम जमा राशि₹500
अधिकतम जमा राशिकोई सीमा नहीं
ब्याज दर4.0% वार्षिक
निकालने के लिए न्यूनतम राशि₹50
खाताधारकों की संख्याएक या दो
खाते मे न्यूनतम राशि ना होने पर शुल्क₹100 प्रति वर्ष
पोस्ट ऑफिस बचत खाता

इस पेज में अपने पोस्ट ऑफिस की सभी जमा स्कीम के बारे में जानकारी प्राप्त की होगी जैसे ब्याज दर मेच्योरिटी अवधि व स्कीम की अन्य विशेषताएं।
पोस्ट ऑफिस की सभी स्कीमों के लिए ब्याज दर हर तिमाही में समीक्षा के बाद तय की जाती है। इसलिए जब भी आप किसी स्कीम में पैसा निवेश करना चाहें तो ब्याज दर की जानकारी जरूर प्राप्त करें।

इसे भी पढ़ें- स्टॉक मार्केट में निवेश करने से पहले हर किसी को क्या सावधानी रखनी चाहिए?

Leave a Reply