एसबीआई स्मार्ट गारंटीड सेविंग स्कीम, SBI Life Smart Bachat Plan Status, Premium , SBI लाइफ इंश्योरेंस पॉलिसी फायदे एवं विशेषताएं
SBI Life Smart Bachat Policy

एसबीआई लाइफ स्मार्ट बचत प्लान: भारतीय स्टेट बैंक द्वारा प्रदान की जाने वाली सेविंग स्कीम में से एक खास स्कीम एसबीआई लाइफ स्मार्ट बचत प्लान हैं।
किसी भी सेविंग प्लान या बीमा प्लान खरीदने से पहले उसके फीचर्स के बारे में जानकारी होना बेहद जरूरी है। एसबीआई लाइफ़ स्मार्ट बचत प्लान के बहुत से फायदे एवं विशेषताएं हैं। इसके साथ ही इस स्कीम में प्रीमियम, पॉलिसी के लिए पात्रता मानदंड व सम एश्योर्ड के बारे में संपूर्ण जानकारी होने पर ही आपको यह पॉलिसी खरीदनी चाहिए।
इस पेज में आप एसबीआई लाइफ स्मार्ट गारंटी सेविंग स्कीम से जुड़ी संपूर्ण जानकारी ले सकते हैं।

एसबीआई लाइफ स्मार्ट बचत प्लान मुख्य बिंदु

आयु सीमा06 से 50 वर्ष
मेच्योरिटी पर आयु65 वर्ष (अधिकतम)
सम एश्योर्डन्यूनतम: 100000
अधिकतम: कोई सीमा नहीं
पॉलिसी टर्म12 – 25 वर्ष
प्रीमियम पेमेंट टर्म6 – 15 वर्ष
प्रीमियम जमा विकल्पमासिक
त्रिमासिक
छमाही
वार्षिक
SBI Life Smart Bachat Plan

एसबीआई लाइफ स्मार्ट बचत प्लान एक इन्डाउमन्ट, नाॅन-लिक्ड पार्टिसिपटिंग पाॅलिसी हैं जो बचत के साथ-साथ इंश्योरेंस कवरेज भी प्रदान करती हैं। साथ ही इस प्लान में प्रीमियम टर्म के दौरान ही नहीं बल्कि प्रीमियम टर्म के बाद (पाॅलिसी टर्म मे) भी बिमा कवरेज मिलता हैं। पाॅलिसी टर्म व प्रीमियम टर्म का चुनाव करने के लिए लचीलापन हैं जिसके अनुसार यह बहुत से लोगों के लिए एक आदर्श बचत प्लान व बीमा पॉलिसी हो सकती हैं।

एसबीआई लाइफ स्मार्ट बचत पॉलिसी विकल्प

  • इस प्लान में दो विकल्प मौजूद हैं। पाॅलिसीधारक अपने अनुसार उचित विकल्प का चुनाव कर सकता हैं।
  • विकल्प (A). इन्डाउमन्ट विकल्प
  • विकल्प (B). इन्डाउमन्ट + इन-बिल्ट एक्सिडेंटल डेथ एंड टोटल परमानेंट डिसेबिलिटी (AD & TPD) लाभ
  • इन्डाउमन्ट विकल्प (A) चुनने पर एक्सिडेंटल डेथ बेनिफिट तथा टोटल परमानेंट डिसेबिलिटी राइडर बेनिफिट्स नहीं मिलेगा।
  • जबकि विकल्प (B) चुनने पर एक्सिडेंटल डेथ बेनिफिट तथा टोटल परमानेंट डिसेबिलिटी राइडर का लाभ मिलेगा हालांकि इसके तहत प्रीमियम अधिक जमा करना होगा।

इसे भी पढ़ें- SBI मंथली इनकम प्लान इंटरेस्ट रेट, स्कीम अवधि, फायदे व विशेषताएं

SBI लाइफ स्मार्ट बचत प्लान की विशेषताएं

पाॅलिसी टर्म (Policy Term)

  • पाॅलिसी धारक अपनी इच्छानुसार एसबीआई लाइफ स्मार्ट गारंटी सेविंग प्लान की अवधि चुन सकता हैं।
  • इस प्लान की न्यूनतम पाॅलिसी अवधि 12 वर्ष हैं जबकि अधिकतम अवधि 25 वर्ष हैं।
  • मेच्योरिटी पर आवेदक की आयु (अधिकतम आयु 65 वर्ष) के अनुसार भी अधिकतम पाॅलिसी टर्म चुनीं जा सकती हैं।

पाॅलिसी प्रीमियम पेमेंट टर्म (Premium Term)

  • इस प्लान के तहत पाॅलिसी पेमेंट टर्म के लिए 6 वर्ष, 7 वर्ष, 10 वर्ष व 15 वर्ष के तौर पर विकल्प उपलब्ध हैं।
  • पाॅलिसी पेमेंट टर्म 6 वर्ष व 7 वर्ष का चुनाव तभी किया जा सकता है जब पाॅलिसी टर्म 12 से 25 के बीच चुना गया हों।
  • पाॅलिसी पेमेंट टर्म 10 वर्ष का चुनाव केवल तभी किया जा सकता हैं जब पाॅलिसी टर्म 15 वर्ष से 25 वर्ष के बीच चुना गया हों।
  • पाॅलिसी पेमेंट टर्म 15 वर्ष तभी हो सकती हैं जब पाॅलिसी टर्म 20 से 25 वर्ष चुनी गई हों।

पाॅलिसी प्रीमियम पेमेंट विकल्प (Premium Frequency)

  • योजना के तहत मासिक, त्रिमासिक, छमाही या फिर वार्षिक प्रीमियम के रूप में प्रीमियम जमा किया जा सकता हैं।
  • यदि प्रीमियम पेमेंट मासिक तौर पर प्रीमियम चुना जाता हैं तो तीन महीने का प्रीमियम एडवांस में जमा करना होगा।
  • मासिक प्रीमियम चुनने पर हर माह, वार्षिक प्रीमियम का 8.50 प्रतिशत जमा करना होगा।
  • तिमाही प्रीमियम चुनने पर हर तिमाही, वार्षिक का 26 प्रतिशत प्रीमियम जमा करना होगा।
  • वहीं छमाही प्रीमियम चुनने पर हर छमाही, वार्षिक प्रीमियम का 51 प्रतिशत प्रीमियम जमा करना होगा।

पाॅलिसी प्रीमियम पेमेंट अमाउंट (Premium Amount)

पाॅलिसी का प्रीमियम आवेदक की उम्र, सम एश्योर्ड, व पाॅलिसी टर्म के अनुसार तय किया जा सकता हैं।
एसबीआई लाइफ स्मार्ट बचत प्लान का न्यूनतम प्रीमियम इस प्रकार हो सकता हैं-

  • मासिक प्रीमियम चुनने पर न्यूनतम मासिक प्रीमियम 450 रूपए हो सकता हैं।
  • तिमाही प्रीमियम चुनने पर न्यूनतम प्रीमियम 1350 रूपए हो सकता हैं।
  • छमाही प्रीमियम चुनने पर न्यूनतम प्रीमियम 2600 रूपए हो सकता हैं।
  • वहीं वार्षिक प्रीमियम के तौर पर न्यूनतम प्रीमियम 5100 रूपए हो सकता हैं।

प्रीमियम पेमेंट ग्रेस पीरियड (Grace Period)

  • प्रीमियम जमा करने की तारीख से 15 दिन या 30 दिन का समय ग्रेस पीरियड के रूप में मिल सकता हैं।
  • तिमाही, छमाही या वार्षिक प्रीमियम जमा करने की स्थिति में ग्रेस पीरियड 30 का होगा।
  • मासिक रुप से प्रीमियम जमा करने पर ग्रेस पीरियड केवल 15 दिन का होगा।

सम एश्योर्ड (Sum Assured)

  • न्यूनतम सम एश्योर्ड 100000 रूपए चुना जा सकता हैं।
  • अधिकतम सम एश्योर्ड चुनने की कोई सीमा नहीं हैं।
  • विभिन्न परिस्थित में सम एश्योर्ड सीमित किया जा सकता हैं।

फ्री लुक पीरियड (Free Look Period)

  • पाॅलिसी खरीदने की तिथि से 15 दिन का समय फ्री लुक पीरियड होता हैं। इस समम अंतराल में बिना किसी अतिरिक्त शुल्क के पाॅलिसी को वापिस किया जा सकता हैं।
  • 15 दिन के बाद पाॅलिसी को वापिस नहीं किया जा सकता हैं।

पेड-अप सुविधा (Paid Up Facility)

  • पाॅलिसी का प्रीमियम ना भर पाने की स्थिति में पाॅलिसी को पेड-अप भी किया जा सकता हैं। हालांकि इसके लिए कुछ वर्ष का प्रीमियम जमा किया गया होना चाहिए।
  • पाॅलिसी पेड-अप करने पर जमा प्रीमियम के अनुसार सम-एश्योर्ड व अन्य चीजें बदल सकती हैं।
  • Paid Up पाॅलिसी कराए जाने पर मेच्योरिटी पर Basic Sum Assured की जगह Paid Up Sum Assured लागू होगा।

एसबीआई लाइफ स्मार्ट बचत प्लान कैल्कुलेशन

माना कोई व्यक्ति जिसकी उम्र 30 वर्ष हैं वह 300000 रुपए का सम एश्योर्ड का चुनाव करता है व पाॅलिसी टर्म 20 तथा प्रीमियम टर्म 15 चुनता है इस स्थिति में वार्षिक प्रीमियम होगा-
विकल्प A इन्डाउमन्ट विकल्प के लिए:
आवेदक की उम्र: 30 वर्ष
सम एश्योर्ड: 300000 रूपए
पाॅलिसी टर्म: 20 वर्ष
प्रीमियम टर्म: 15 वर्ष
प्रीमियम होगा: 17361 रूपए + टैक्स

मेच्योरिटी लाभ:
नाॅन गारंटीड रिटर्न @ 4%: 72000 रूपए
नाॅन गारंटीड रिटर्न @ 8%: 240000 रूपए
कुल मेच्योरिटी लाभ:
300000+72000=372000 रूपए या
300000+240000=540000 रूपए

विकल्प B: इन्डाउमन्ट + इन-बिल्ट एक्सिडेंटल डेथ एंड टोटल परमानेंट डिसेबिलिटी (AD & TPD) लाभ के लिए:
आवेदक की उम्र: 30 वर्ष
सम एश्योर्ड: 300000 रूपए
पाॅलिसी टर्म: 20 वर्ष
प्रीमियम टर्म: 15 वर्ष
प्रीमियम होगा: 17643 रूपए + टैक्स
जहां AD&TPD प्रीमियम 282 रूपए हैं।

मेच्योरिटी बेनिफिट्स:
नाॅन गारंटीड रिटर्न @ 4%: 72000 रूपए
नाॅन गारंटीड रिटर्न @ 8%: 240000 रूपए
कुल मेच्योरिटी लाभ:
300000+72000=372000 रूपए या
300000+240000=540000 रूपए

नोट: यह आंकड़े सिर्फ उदाहरण के लिए हैं। जो बिना मृत्यु लाभ व AD & TPD लाभ के साथ दर्शाएं गये हैं। सम एश्योर्ड, पाॅलिसी टर्म, प्रीमियम टर्म व अन्य में परिवर्तन होने पर ये सभी आंकड़े बदल सकते हैं। व सभी पात्र एसबीआई के विवेक के अनुसार परिवर्तन के अधीन हैं।

SBI Life स्मार्ट बचत स्कीम के फायदें

SBI Life Smart Bachat Scheme के बहुत से फायदे हो सकते हैं। यह पाॅलिसी नाॅन-लिक्ड, पार्टिसिपटिंग सेविंग पाॅलिसी हैं। जिसके कारण इसमें जोखिम ना के बराबर रहता है। तथा बीमाधारक को सेविंग के साथ बीमा कवरेज भी मिलता हैं। इस प्लान के कुछ सामान्य लाभ हैं-

मैच्योरिटी बेनिफिट्स

  • पॉलिसी टर्म पूरा होने पर दोनों पाॅलिसी विकल्प के तहत मेच्योरिटी बेनिफिट्स के रूप में, बीमित व्यक्ति द्वारा चुना गया सम एश्योर्ड + वेस्टेड रिवर्शनरी बोनस + टर्मिनल बोनस (यदि हो) पॉलिसीधारक को अदा किया जाएगा।
  • यदि पाॅलिसी पेड अप की गई है तो सम एश्योर्ड की जगह पेड अप सम एश्योर्ड राशि का भुगतान किया जाएगा।
  • नाॅन गारंटीड रिटर्न @ 4%
  • नाॅन गारंटीड रिटर्न @ 8%

मृत्यु लाभ (Death Benefits)

  • पाॅलिसी टर्म के दौरान पाॅलिसीधारक की मृत्यु हो जाने पर नामित व्यक्ति / लाभार्थी को a व b, जो भी ज्यादा हो वह मिलेगा।
  • (a). बेसिक सम एश्योर्ड + वेस्टेड सिंपल रिवर्शनरी बोनस + टर्मिनल बोनस (यदि कोई हो तो)
  • जहां सम एश्योर्ड, वार्षिक प्रीमियम का 10 गुणा या बेसिक सम एश्योर्ड से अधिक होगा।
  • (b) बीमित व्यक्ति की मृत्यु होने तक कुल जमा प्रीमियम का 105% रकम नामित व्यक्ति को मिलेगी।

एक्सिडेंटल मृत्यु एंड टोटल परमानेंट डिसेबिलिटी लाभ (AD & TPD Benefits)

  • इन-बिल्ट एक्सिडेंटल डेथ एंड टोटल परमानेंट डिसेबिलिटी (AD & TPD) लाभ, केवल पाॅलिसी विकल्प (B) के लिए लागू होता है।
एक्सिडेंटल मृत्यु लाभ
  • एक्सिडेंटल डेथ एंड टोटल परमानेंट डिसेबिलिटी लाभ सम एश्योर्ड के बराबर होगा।
  • एक्सिडेंटल डेथ एंड टोटल परमानेंट डिसेबिलिटी लाभ के साथ साथ सम एश्योर्ड व अन्य बोनस भी नामित व्यक्ति को प्रदान किया जाएगा।
  • मृत्यु लाभ लेने के बाद पाॅलिसी वहीं बंद कर दी जाती हैं।
टोटल परमानेंट डिसेबिलिटी लाभ
  • दुर्घटनावश बीमित व्यक्ति टोटल परमानेंट डिसेबिलिटी होने पर AD & TPD लाभ मिलता हैं साथ ही आगे की सभी प्रीमियम का भुगतान करने की आवश्यकता नहीं होती हैं।
  • वहीं पाॅलिसी मेच्योर होने पर सभी मेच्योरिटी लाभ मिलते हैं।

टैक्स बेनिफिट (Tax Benefit)

इस पाॅलिसी में निवेश करने पर पाॅलिसीधारक, आयकर विभाग द्वारा निर्धारित ‘कर नियमों’ के अनुसार आयकर में लाभ के लिए उत्तरदायी होगा।

प्रीमियम में छूट (Premium Discount)

  • एक लाख से तीन लाख तक का सम एश्योर्ड चुनने पर प्रीमियम में कोई छूट नहीं मिलती हैं।
  • तीन लाख से पांच लाख तक का सम एश्योर्ड चुनने पर प्रीमियम में 3 रूपए प्रति हजार छूट मिलती हैं।
  • पांच लाख से अधिक सम एश्योर्ड चुनने पर प्रीमियम में 4 रूपए प्रति हजार छूट मिलती है।

लोन उपलब्धता (Loan Availability)

पैसे की आवश्यकता पड़ने पर पाॅलिसी धारक, एसबीआई लाइफ़ स्मार्ट बचत योजना के तहत लोन भी ले सकता हैं। योजना में जमा प्रीमियम का 90% तक लोन लिया जा सकता हैं।

इन्हें भी पढ़ें- SBI Green Car Loan: Interest Rate 2022, एसबीआई इलेक्ट्रिक व्हीकल लोन

होम इंश्योरेंस क्या होता हैं | होम इंश्योरेंस कैसे लें | होम इंश्योरेंस के फायदे

पात्रता मानदंड (Eligibility Criteria)

  • विकल्प (A) चुनने पर आवेदन की न्यूनतम उम्र 06 वर्ष होनी चाहिए जबकि अधिकतम उम्र 50 वर्ष होनी चाहिए।
  • विकल्प (B) चुनने पर आवेदक की उम्र 18 वर्ष से 50 वर्ष के बीच होनी चाहिए।
  • मेच्योरिटी के समय अधिकतम उम्र 65 वर्ष होनी चाहिए।
  • न्यूनतम सम एश्योर्ड (बीमित राशि) 100000 रूपए होनी चाहिए।

आवश्यक दस्तावेज (Required Documents)

  • आवेदन फार्म
  • आयु का प्रमाण
  • मेडिकल सर्टिफिकेट
  • KYC दस्तावेज
  • पते का प्रमाण
  • फोटोग्राफ।

पाॅलिसी में सामिल नहीं (Exclusion)

आत्महत्या करने पर

  • बीमित व्यक्ति द्वारा पाॅलिसी खरीदे जाने वाली तिथि से 1 साल के भीतर आत्महत्या की जाने की स्थिति मे नामित व्यक्ति को मृत्यु लाभ नहीं दिया जाएगा
  • बीमित व्यक्ति पाॅलिसी खरीदे जाने वाली तिथि से 1 साल के भीतर आत्महत्या करने पर नामित व्यक्ति को जमा प्रीमियम की 80 प्रतिशत राशि मिलेगी।
  • आत्महत्या की स्थिति में दिये जाने वाले लाभ के बाद पाॅलिसी बंद हो जाएगी

मृत्यु होने या पूर्ण रूप से विकलांग होने का निम्न कारण होने पर अपवर्जन (Exclusion)

  • किसी भी संक्रमण के कारण मृत्यु या पूर्ण विकलांगता होना, (दुर्घटनावश फिजिकली दिखाई देने वाले बाहरी घाव के कारण संक्रमण को छोड़कर)।
  • नशीले पदार्थ, ड्रग्स आदि के सेवन से हुई मौत या पूर्ण रूप से विकलांगता।
  • अपने आप कि गई क्षति जिसके कारण मृत्यु होना या पूर्ण विकलांगता होना।
  • आत्महत्या की कोशिश के दौरान क्षतिग्रस्त होना या पूर्ण विकलांगता होना।
  • किसी गैरकानूनी वारदात को अंजाम देने के दौरान मृत्यु या पूर्ण विकलांगता।
  • रेडियोधर्मी, विस्फोटक या परमाणु ईंधन सामग्री आदि के कारण मृत्यु या पूर्ण विकलांगता।
  • ऐसे खेल, या गतिविधि के दौरान मृत्यु या पूर्ण विकलांगता जो पाॅलिसी के अंतर्गत कवर नहीं की जाती हों।

SBI Life स्मार्ट बचत प्लान नियम एवं शर्तें

  • पाॅलिसी खरीदने के 12 महीनों के भीतर यदि बीमाधारक आत्महत्या करता हैं तो नामित व्यक्ति को जमा प्रीमियम का 80 प्रतिशत रकम मिलेगी।
  • दुर्घटना में मृत्यु होने पर लाभार्थी/नामित को सभी Accidental Death & Total Parament Disability बेनिफिट्स एकमुश्त रकम के रूप में दिया जाएगा एवं पाॅलिसी वहीं बंद हो जाएगी।
  • दुर्घटना में बीमित व्यक्ति Total Parament Disability होने पर AD & TPD Benefits दिया जाएगा तथा आगामी प्रीमियम का भुगतान पाॅलिसी कंपनी के द्वारा किया जाएगा।
  • यदि पाॅलिसी को Paid Up किया गया है तों पाॅलिसीधारक को मेच्योरिटी पर मूल सम एश्योर्ड (Basic Sum Assured) की जगह Paid Up Sum Assured राशि मिलेगी।
  • पाॅलिसी पेड-अप करने या सरेंडर करने के लिए कम से कम दो वर्ष का प्रीमियम जमा होना चाहिए।
  • पाॅलिसी के विरुद्ध लोन लेने पर 9% वार्षिक ब्याज लागू होता हैं जिसकी अर्द्धवार्षिक चक्रवृद्धि गणना की जाती हैं।

Endowment पाॅलिसी लेते समय ध्यान रखने योग्य बातें

  • बहुत से लोगों को ‘इन्डाउमन्ट प्लान’ लेते समय कुछ समझ नहीं आता है और वह अपने लिए कोई भी इन्डाउमेंट प्लान ले लेते हैं मगर इन्डाउमेंट प्लान लेते समय बहुत सी सावधानियां हैं जिनके बारे में हर किसी को जानकारी होनी चाहिए जैसे-
  • इन्डाउमेन्ट प्लान कोई निवेश का माध्यम नहीं हैं। यह सिर्फ एक साधारण बचत का माध्यम हैं। इसलिए यदि आप अपनी वर्तमान की कमाई को भविष्य के लिए सिर्फ बचत या इकठ्ठा करना चाहते हैं तो आप इन्डाउमन्ट प्लान में पैसा जमा कर सकते हैं।
  • यदि आप अपनी वर्तमान की कमाई को निवेश करके भविष्य में रिटर्न या मुनाफा चाहते हैं तो आपके लिए इन्डाउमन्ट प्लान उचित नहीं होगा।
  • हालांकि Endowment Plan के साथ बीमा भी दिया जा सकता है जिसके तहत भविष्य में आप अपने परिवार को वित्तीय सुरक्षा प्रदान कर सकते हैं
  • इन्डाउमन्ट प्लान में मुनाफा बोनस के रूप में मिलता हैं। जिसका मतलब है कि इसकी कोई गारंटी नहीं हैं। कि आपको इतना मुनाफा होगा। बोनस ‘कंपनी के मुनाफे’ के आधार पर तय किया जाता हैं यदि प्लान की मेच्योरिटी के समय पाॅलिसी कंपनी को मुनाफा होता है तो वह अपने ग्राहकों के लिए बोनस दे सकती हैं अन्यथा बोनस को कम या खत्म भी किया जा सकता हैं।
  • इन्डाउमन्ट प्लान में सिर्फ सम एश्योर्ड ही गारंटीड रिटर्न के रूप में होता हैं। क्योंकि सम एश्योर्ड कुल प्रीमियम की रकम के बराबर होता हैं। इसलिए कह सकते हैं कि इन्डाउमन्ट प्लान सिर्फ बचत का माध्यम होता हैं।

SBI Life स्मार्ट बचत प्लान FAQs

एसबीआई लाइफ स्मार्ट बचत प्लान को चुनने के लिए कौन कौन से विकल्प मौजूद हैं?

SBI Life Smart Bachat Plan के तहत
विकल्प (A). इन्डाउमन्ट विकल्प
विकल्प (B). इन्डाउमन्ट + इन-बिल्ट एक्सिडेंटल डेथ एंड टोटल परमानेंट डिसेबिलिटी (AD & TPD) लाभ
आवेदक अपने अनुसार विकल्प का चुनाव कर सकता हैं।

एसबीआई लाइफ स्मार्ट बचत प्लान कितने वर्ष के लिए लिया जा सकता हैं?

एसबीआई लाइफ स्मार्ट बचत प्लान 12 वर्ष से 25 वर्ष तक के लिए चुना जा सकता हैं।

SBI Life Smart Bachat Plan के तहत प्रीमियम टर्म कितने वर्ष के लिए हैं?

SBI Life Smart Bachat Plan के लिए प्रीमियम अवधि 6 वर्ष, 7 वर्ष, 10 वर्ष या 15 वर्ष हैं। जो पाॅलिसी अवधि के अनुसार चुनीं जा सकता हैं।

एसबीआई लाइफ़ स्मार्ट बचत प्लान में प्रीमियम जमा कारने के लिए कौन-से विकल्प है?

बीमाधारक वार्षिक, अर्द्ध वार्षिक, तिमाही, मासिक विकल्प के रूप में प्रीमियम जमा कर सकता हैं।

क्या पाॅलिसी को पेड-अप (Paid Up) किया जा सकता हैं?

हां, एसबीआई लाइफ़ स्मार्ट बचत स्कीम के तहत पाॅलिसी को पेड-अप किया जा सकता हैं। मगर इसके लिए कम से कम प्रथम दो वर्ष का प्रीमियम जमा होना चाहिए।

क्या पाॅलिसी के तहत लोन भी लिया जा सकता हैं?

हां, पाॅलिसी के तहत कुल जमा प्रीमियम का 90 प्रतिशत तक लोन लिया जा सकता हैं। जिसके लिए 9 प्रतिशत वार्षिक ब्याज दर लागू होती हैं। जबकि छमाही चक्रवृद्धि ब्याज लागू होता हैं।

इन्हें भी पढ़ें- पोस्ट ऑफिस डबल मनी स्कीम इंटरेस्ट रेट, अवधि, फायदे एवं विशेषताएं

कौन सी क्रिप्टोकरेंसी खरीदनी चाहिए? सबसे ज्यादा रिटर्न कौनसी क्रिप्टोकरेंसी ने दिया है?

एसबीआई मासिक आय योजना क्या है, इसके ब्याज, लाभ, लोन, मेच्योरिटी

अस्वीकरण / Disclaimers

पैसावालेडाॅटइन कभी भी किसी व्यक्ति को कोई इंश्योरेंस पाॅलिसी या अन्य प्लान में निवेश करने के लिए प्रेरित नहीं करता हैं। और न ही लाभ व हानि की गारंटी लेता है।
उपरोक्त के अनुसार बताई गई जानकारी एसबीआई की आधिकारिक वेबसाइट से ली गई है। व सभी पात्र की पुष्टि Paisawale.in नहीं करता हैं।

Leave a Reply