शेयर बाजार में शेयर खरीदने का सही समय कौन हैं, शेयर कब खरीदें, share kab kharidna chahiye
शेयर खरीदने का सही समय कौन सा हैं?

शेयर खरीदने का सही समय क्या हैं? ये सवाल अधिकतर निवेशकों के मन में हमेशा रहता हैं। क्योंकि कभी कभी गलत समय पर शेयर खरीदकर पछताना पड़ता हैं, तो कई बार गलत समय पर शेयर बेचकर भी पछताना पड़ता हैं। इसलिए यदि शेयर बाजार में एक सफल निवेशक बनना हैं तो आपको शेयर खरीदने व बेचने के सही समय के बारे में जानकारी होना बेहद जरूरी हैं।
आपको मालूम होना चाहिए कि शेयर को कब खरीदना हैं और कब बेचना हैं। यदि आप इतना कर पाते हैं तो आप शेयर बाजार में अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं। शेयर बाजार में निवेश करना कोई मुश्किल काम नहीं हैं बल्कि निवेश के जरिए मुनाफा कमाना बहुत महत्वपूर्ण हैं।

शेयर बाजार अच्छी खासी कमाई करने के मौके देता हैं मगर कई बार इन मौकों को पहचानने में गलती कर बैठते हैं, जिसके चलते नुकसान भुगतना पड़ता हैं। यदि कुछ खास बातों का ध्यान रखकर शेयर बाजार में शेयरों की खरीदारी व बिकवाली की जाए तो अच्छा मुनाफा भी मिल सकता हैं।

शेयर बाजार में शेयर खरीदने का सही समय

शेयर बाजार में खरीदारी करने का उद्देश्य लंबे समय के लिए शेयर होल्ड करने का होना चाहिए। जैसा कि बड़े इन्वेस्टर्स भी यही बात बताते हैं कि शेयर बाजार में लंबे समय के निवेश पर अच्छा मुनाफा कमाया जा सकता हैं। हालांकि कुछ विशेष परिस्थितियों का ध्यान रखकर शेयरों की खरीदारी करना अच्छा साबित हो सकता हैं।

बाजार की गिरावट में शेयर खरीदें

अधिकतर निवेशक बाजार की गिरावट को देखकर घबराने लगते हैं मगर बहुत से सुलझे हुए निवेशकों के लिए बाजार की गिरावट शेयर खरीदने का अच्छा समय होता हैं क्योंकि बाजार में जब गिरावट आती है तो शेयरों की कीमत कम रहती हैं। जिसके चलते शेयरों को कम कीमत में खरीदने का मौका होता हैं। इस समय कम निवेश के जरिए ज्यादा शेयर खरीदें जा सकते हैं। अब जैसे ही बाजार की स्थिति ठीक होगी, शेयर अच्छा मुनाफा दिलाएंगे। हालांकि गिरावट कुछ लंबे समय के लिए भी रह सकती हैं जिसके लिए धैर्य रखना बेहद जरूरी हैं।

इसे भी पढ़ें- ₹ 10 से कम कीमत वाले शेयरों पर दांव लगाने से पहले जाने समझे जरूरी बातें

पूरी एनालिसिस करने के बाद शेयर खरीदें

एक समझदार निवेशक होने के नाते यह बात बिल्कुल साफ होनी चाहिए कि आप जिस कंपनी के शेयरों में पैसा निवेश कर रहे हैं, उस कंपनी के बारे में आपको सबकुछ मालूम हैं या नहीं। यदि आप उस कंपनी के बारे में जानकारी इकट्ठा करने के बाद निवेश का फैसला कर रहे हैं तो आप निश्चित ही उस स्टाॅक से मुनाफा कमाएंगे। पूरी एनालिसिस करने के बाद खरीदें गये शेयरों के प्रति बाजार के उतार चढ़ाव से आप घबराएंगे नहीं। क्योंकि आपको मालूम होगा कि इस कंपनी का कारोबार अच्छा हैं और इसका स्टाॅक कुछ समय के बाद अच्छा प्रदर्शन करेगा। और आप लंबे समय तक शेयर होल्ड कर पाएंगे। और लंबे समय की निवेश अवधि में अच्छा मुनाफा कमा पाओगे। अतः स्टाॅक के बारे में पूरी एनालिसिस करने के बाद शेयर खरीदने का सही समय होता हैं।

इसे भी पढ़ें- शेयर बाजार में नुकसान से बचने के टिप्स, स्टाॅक मार्केट में होने वाली गलतियां

तिमाही नतीजे आने के बाद करें खरीदारी

लगभग सभी कंपनियां हर तिमाही में कंपनी के कारोबार व फाइनेंशियल से संबंधित जानकारी साझा करती हैं। यदि कंपनी ने बीते तिमाही में अच्छा प्रदर्शन किया हैं और भविष्य में भी अच्छा प्रदर्शन करने की संभावना हैं तो उस कंपनी के शेयरों को खरीदना अच्छा विकल्प होगा। और यदि कंपनी के नतीजे अच्छे नहीं रहे हैं, और आगे भी कंपनी के कारोबार को लेकर अच्छे संकेत नहीं हैं तो आपके लिए शेयरों से दूर रहना ही अच्छा होगा।

अपने लक्ष्य के अनुसार निवेश करें

यदि आपने कोई लक्ष्य निर्धारित किया हैं तो अपने लक्ष्य पर ध्यान देना भी बेहद जरूरी हैं, आपको मालूम होना चाहिए कि लक्ष्य कितने समय में हासिल किया जा सकता हैं। यदि आप समय रहते निवेश नहीं करते हैं तो आपको लक्ष्य तक पहुंचने में ज्यादा समय लग सकता हैं। इसलिए शेयर बाजार में सही समय का इंतजार करना, समय को गंवाना जैसा हैं। अच्छे शेयरों में कभी भी निवेश किया जा सकता हैं। इसके लिए कोई निश्चित समय नहीं होता हैं। हालांकि शेयर बाजार में उतार चढ़ाव हमेशा ही आते रहेंगे इसलिए अपने निवेश के लिए सही समय वर्तमान ही हो सकता हैं।

इसे भी पढ़ें- वन टाइम इन्वेस्टमेंट प्लान के लिए ये हैं सबसे अच्छे म्यूचुअल फंड

म्यूचुअल फंड में पैसा कब और कैसे लगाएं, ऐसा करने पर मिल सकता हैं ज्यादा रिटर्न

अस्वीकरण: इस पेज में बताई गई जानकारी आपके लिए उपयोगी हो सकती हैं। इसके बावजूद भी निवेश से पहले अपने वित्तीय सलाहकार से परामर्श ज़रूर लें। निवेश से होने वाले लाभ या हानि का जिम्मेदार पैसावालेडाॅटइन नहीं होगा।

Leave a Reply